There was an error in this gadget

Saturday, August 20, 2011

Simple but highly effective sadhana/prayog


                                   सरल  प्रभाव दायक  प्रयोग 
                                   1.योग्य जीवन साथी के लिए  साधना (हमारी  बहिनों केलिए)
       यह अद्भुत बात हैं की पुरुष वर्ग , अपने लिए एक योग्य जीवन साथी  चाहता  हैं, पर हमारे  समाज  की अजीब  सी विसंगति हैं  कि हमारी बहिने  यह नहीं कह पाती हैं, ( आज स्थिति बदल  रही हैं फिर भी  अनेको बहिनों के सामने  यह  समस्या हैं वह खुल कर अपने  हिस्नेही जनों   से यह कह नहीं सकती हैं )यह बात सही हैं ,नारी के लिए  जो माप दंड हैं ,  वह पुरुष के लिए नहीं हो सकतेहैं , माना  जीवन में गुणों  का एक अलग  ही मूल्य हैं,स्थान  हैं    फिर भी कौन नहीं चाहता   की  उसका  जीवन  साथी  सुन्दर   तो हो समाज में हम  किसी  के सामने अपने जीवन साथीके साथ खड़े होतो  मनमे कुछ भी कुंठा  न  आये ठीक हैं वह अद्भुत रूप धारी  न हो पर हमारे  योग्य तो हो  .सदगुरुदेव एक अप्सरा साधना में कहते हैं  की  जीवन साथी सुन्दर न होने पर  कुछ तो समस्या  आती हैं ,
पर ये भी तो सही हैंकि जिसे  जो रूप मिल गया हैं उसे बदले कैसे ..
 फिर यहाँ पर साधना   ही एक मात्र  उपाय  हैं ..आप चाहे तो,  यदि आपका  विवाह हो गया हैं तो  अप्सरा साधना  करके अपने जीवन में उसके प्रभाव से  व्यक्तित्व ओर रूप रंग  में  परिवर्तन  पा सकते हैं , यह कैसे संभव  हो सकता हैं उसके लिए  तो आपको  सदगुरुदेव भगवान द्वारा  इस संबंधमे   बताई गयी साधना ओ  को केबल देखना या सुनना  ही नहीं बल्कि करना तो पड़ेगा  ही न .

 यह तो बात हुयी . विवाहित  लोगोंकी ..

पर हमारी जो बहिने  अभी अबिवाहित  हैं , क्या उनके लिए कोई  ऐसी साधना  नहीं हैं जो योग्य के साथ  सुन्दर जीवन साथी भी उन्हें प्राप्त कराये ..

एक बहुत  ही सरल प्रयोग  जिसे यदि आप  पूर्ण श्रद्धा  के साथ सदगुरुदेव भगवान् के समक्ष  प्रार्थना  करके  संकल्प ले कर  प्रारंभ    तो करे   निश्चय  ही उनके आशीर्वाद से आपको  योग्य मनो वांछित  गुणों वाला  व्यक्ति  जो सदगुरुदेव  भगवान्  की दृष्टी में  आपके  लिए  योग्य  होगा प्राप्त होगा ही , आखिर वे हमारे उन पक्षों  को भी जानतेहैं जो हमें  ही नहीं ज्ञात हैं वे  ही हमारे  पिता हैं ,तो अपने अनंतकाल से जो  पिता  हैं से  मागने में क्यों  शरमाना,  उनसे नहीं तो किस्से   कहेंगी आप अपनी बात ..
मंत्र :
ॐ क्लीं कुमाराय स्वाहा ||
 इसमें  दिशा , वस्त्र ,माला, आसन  का कोई प्रतिबंध  नहीं हैं, बस आपकी भावना ,श्रद्धा  कितनी हैं ,ओर  कितनी  हो  सकती हैं उस पर  ही सब  निर्भर हैं , सुबह जब आप अपनी साधना करती हैं  तो सदगुरुदेव के सामने  अपने मन की बात  ऐसे कहिये  मानो वह सामने  बैठे  हो और आप अपने पिता से कह रहे हो . संकल्प ले कर  प्रतिदिन कमसे कम १० माला   तो रोज़ करनी हैं . आपकी श्रद्धा  विस्वास, सदगुरुदेव  का आशीर्वाद , आपकी साधना  आपके लिए  क्या  कर सकती हैं ,उसे तो आप  ही समझ पायेगी ,अब कितने दिन करना  हैं उसे आप पर  ही छोड़ते हैं,क्योंकि जहाँ  भाग्य बदलना  हो  तब अपनी साधना  को  दिनों में नहीं बाँध सकते हैं . 

**************************************************************************************************
                                  2.भयमुक्त ता के लिए सरल  साधना 
मानव जीवन भी बिभिन्न   रूप में गतिमान होता हैं,  जोकल तक धनवान वे  आज  जमीन   पर  आ जाते हैं जो मित्र हैं  वह शत्रु  होजाते हैं पर जीवन तो निर्बाध रूप से चलता रहता  हैं ,पर  सदगुरुदेव भगवान् कहते हैं की हममे  से कौन हैं जो अपने  ह्रदय  पर हाथ रख कर  यह कह्सके  उसे  किसी का भय नहीं हैं   यह भय किसी भी प्रकार का  हो सकता  हैं , पर  इनभय से व्यक्ति की रक्षा  कैसे हो , हर दिन  तो हमारा  किन्ही अर्थो में भय से ग्रस्त रहता ही हैं , क्या  कोई रास्ता  हैं इस बही से मुक्ति का  तो ,
फिर बात आ ही जाती हैं की सिर्फ साधना ..ओर कुछ  नहीं ..
 जब बड़ी बड़ी साधना न की जा सकती हो  तब क्या  करे ...
हर व्यक्ति प्रयास करता हैं ही
पर सही अर्थो में  तो भय से मुक्ति  तो साधना   ही दे सकती हैं.
मंत्र :
 ॐ ह्रीं श्रीं चक्रेश्वरी   मम  रक्षा   कुरु कुरु स्वाहा ||
 इस मंत्र को  अपने  दिन प्रतिदिन की पूजा में उपयोग  लाये , बहुत   ही प्रभावशाली  मंत्र हैं , इस मंत्र का विन्यास  ही  आपको समझा सकता हैं , इसमें चक्रेश्वरी    देवी जो की  प्रथम  जैन तीर्थंकर  भगवान् आदिनाथ  की शाशन  देवी  का उल्लेख हैं ,हमारे अपने   जैन धर्म में  एक से एक अद्भुत  साधनाए  हैं  जिन्हें समयनुसार  अपना  ही चाहिए .. राज हंस की भांति जहाँ भी  और जो भी अच्छा मिले  उसे स्वीकार करना चाहिए ही आप इस  मंत्र  को प्रतिदिन १०८ बार जप  कर सकते हैं. माला ,दिशा ,आसन ,दिए ,वस्त्र का  कोई नियम नहीं हैं  
आज के लिए बस इतना 
************************************************************************
                          
1.     to get  suitable  life partner for girls
                                                          its  very amazing  facts that man in our society   easily can express  their feeling    for  to have  very suitable  life partner ,in all respect, but due to situation  running in our society , our sisters often ,are not able  to express their  feeling in this matters ,even to their  near and dear ones. Now a days ,situation is  changing  a lot but  still many of  our sisters are facing  this problem. It s true whatever  the standard for man  , can not be same applicable  for  woman/girls. Its also true that  the quality of a person has its  own value, and a place , but who will not like  to have an smart and beautiful/handsome life partner, so that when we attend any social  function ,we should not get/face  some inferiority complex,
every  person  cannot be  handsome like  a movie star but he should be at least suitable  for his/her  life partner.
Poojya Sadgurudev  rightly said in apsara sadhana that  if the life partner is  not beautiful/handsome than surely  some problem arise. But what  we have got  from nature,  how can  we change in that.
 In this  place also , sadhana is the only option, if you are already  married, than   you should move  for apsara sadhana surely you will feel change  in your look and happiness, how it is possible, for that  you have to go for apsara sadhana  mentioned/described by sadgurudevji, and only reading  or discussing theses sadhana will not help ,  you have to do that  to see the reality  yourself.(this apsara sadhana is equally useful for man and woman)
  So that is about  married people .
 But our sisters who are still unmarried  for them is there any sadhana available,,,
which help them to get not only  a handsome person  but  also  suitable  for them. Here is one such a simple prayog , if you  do that with full devotion  and faith than with the blessing of  Sadgurudev surely  you will have  a suitable and handsome person as a  life  partner. Sadgurudev ji our eternal father , and telling him  even  your very  personal wish ,are not a problem, why  not we can ask our eternal father . why to shy, other wise whom do you want to say..
Mantra :
Om kleem kumaaraay swaha ||
 In this prayog there is no  restriction regarding clothes/rosary used/aasan/direction/time, only thing is needed is  your faith , devotion, and how much it could be raised . When in the morning ,you start your daily sadhana than take  sankalp and in front of sadgurudev bhagvaan’s  photograph and  very politely with open heart  ask your wish to him like that  he is  really in person form sitting in front of you. You  have to  do 10 round of rosary per day means 10 mala per day , than your faith and devotion , and Sadgurudev blessing and  your sadhana what can not  be possible   for you?  Do that and see the result yourself. Now the question remains how many days  this prayog  is to be continued, this rest upon you, since where one want to change his/her  luck  than you cannot   fix days , but  go on and on till the goal is achieved.
******************************************************************
                                      2 .  prayog  for attaining  fearlessness
Human life  passes through many  ways ,many ups /down ,success /failure, those who were  rich ,now they are on the road, and  those who were friend  now becomes enemies. This is the life cycle .But Sadgurudev Bhagvaan says that  who have  courage to put his hand on his heart and can say that he is  fearless in all respect.
 This fear maybe of any type, how  can  a general person save his life  with these fears.
 Is there any way,
Again answer Is the sadhana ..
 When  we have  not time  to go for  long sadhana   than  what we can do..
Every person   try to   do  what is best  for him to become fearlessness. but only sadhana can give the real fearlessness.
Mantra :
Om  shreem   hreem chakreshwari mam raksha kuru kuru swaha ||
You can  use this mantra in your daily pooja , is very effective one. you can understand its power by  the words used in that.   This mantra  has the power of  chakraeshwari  devi ,who is shashan  devi of first teerthankar  Bhagvaan aadi nath. There are many sadhana  which is very effective in jain tantra , and one should/must have a habit to  take whatever good is available to him  . just chant  daily 108 times and it is more than enough.  no other restriction  regarding  yantra/  mala/ clothes/direction/time /earthan lamp lighting etc.
This is enough for this day.
****NPRU****

1 comment:

nikhilcharandhool said...

what u r doing to spread sadgurudevs knowledge is very apreciable, when time and guru kripa allows i would like to contribute to this noble cause some day.
i am new to this field. i wanted to ask u is that - i have heard every sadhana needs to be approved and dikshya to be taken from pujya gurudev for its success. i iwanted to do some ot the sadhana posted on your blog, do i have to take any permission or dikshya from gurudev to perform them. please reply.
nikhilcharandhool@yahoo.com is my mailing address and i have recently joined to your group.
jaya gurudev !