There was an error in this gadget

Tuesday, September 13, 2011

Easiest prayog from protection from itar yoni



                            इतर योनी यों से सम्बंधित अनेको बाते  हम आने  वाले महा विशेषांक  जो की  तीक्षण  शक्ति और इतर  योनी पर  आधारित होगा  में करेंगे  ही,  हम में से  अधिंकाश इस नाम को सुन कर भय भीत हो जातेहैं, हमें  अपने कार्य के कारण अनेको बार  अपने घर से बाह र जाना   ही पड़ता हैं ,कभी  होटल में  तो कभी  किसी  स्थानमे  रुकना  ही  पड़ता हैं , कभी कभी कभी   किसी अनजान स्थानपर  भी , मन में भय आना  स्वाभाविक ही  हैं .

                         इन सभी   चीजो से जुडी बातों को चाहे  ऋणात्मक  उर्जा माने  या   जो भी नाम दे ,पर इनका असर तो होता हैं पर  ये हमें कभी नुक्सान न  पंहुचा पाए इस लिए  कोई  विधान  तो जरुरी हैं , ….

पर क्यों ,,इसकी क्या  जरुरत हैं ..
                       अपने देश के एक विख्यात तंत्र  विधा में लिखने वाले लेखक एक  कार्य वश जब  विदेश गए  तो   जब  उन्हें  कहीं भी  जगह  न मिली रुकने की तो किसी साधारण होटल में उन्हें रात को रुकना  पड़ा ( होटल स्टाफ कमरे खाली  न  होने के कारण  इस विशेष कमरे   को देने के पक्ष  में नहीं था , पर इनके बार बार के अनुरोध  को देख कर ) , उनका  नियम था  सोने  से पहले  की हनुमान  चालीसा   का पाठ  एक विशेष  ढंग से करके ही  सोते  थे , रात  को दो  या तीन  बार उनके कमरे का दरवाजा खट खटाया  गया , जब भी वह दरवाजा  खोल कर बाहर आते  कोई भी नहीं  दिखाई  देता 
सुबह  होटल के स्टाफ ने  उन्हें पूरी तरह से स्वस्थ  देख  कर कहा आपको कुछ नही  हुआ

क्यों 
                           अरे   प़ता  नहीं कोइ नया  व्यक्ति रात में  जब  भी  उस रूम में  रुकता हैं तब रात को  पता  नहीं  कुछ होता  हैं जैसे  ही व्यक्ति  बाहर आ कर   नीचे  देखता हैं . कोई धक्का मार देता  हैं  कई दुर्घटना इस बारे में  हुए हैं . पर आपका  बचना  बहुत  ही आश्चर्य जनक हैं .

                     वसे भी कहा गया हैं  घर के हर  कमरे में  रात  को कुछ देर खास कर शाम को  बिजली  जला   ही देना  चाहिए , इन ऋणात्मक  तत्वों  की उपस्थिति  कम  हो जाती हैं .                                                     क्योंकि  जिन  में कोई  जाता  नहीं हैं  मतलब उपयोग नहीं होता  या  बिना  रोशनी के होते   उनपर ये तत्व  का अधिकार   हो जाता हैं , फिर आप जब इनमे  जाकर अचानक से रहने लग जाते  हैं तो अनेको  ऐसी  घटनाये होती हैं  जिन पर  केबल  भुक्त  भोगी  ही जान  सकते हैं .

                                            मेरे एक परिचित  जब  जॉब के  सिलसिले  में दिल्ली जाकर अपने किसी   एक मित्र  के घर में जाकर   रहते थे,  वह कमरा  उन मित्र के द्वारा  काफी समय से  उपयोग न किये जाने के कारण  बंद  था  , एक दिन  जब मेरे मित्र रात  को सो ने  की तैयारी  कर रहे  थे  और उन्होंने जैसे ही बिजली बंद  की , किसी ने  उन्हें मानो  बिस्तर में  एक जोर  से धक्का   दिया , मेरे मित्र  तत्काल  उठे  सब देखा  कुछ समझ नहीं पाए ,पर  वे उस समय तक सोये नहीं  थे इसलिए इस घटना से बहुत  ही सोच में पड़ गए, अगले दिन  उन्होंने उस  मित्र के परिवार  से बात की पता चला की वह कमरा  करीब  एक साल से बंद  पड़ा  था .यह सारी बाते स उनकर , फिर   रोज़ एक दिया तो कम से कम उस कमरे में जला दिया  जाता था .

                               सदगुरुदेव भगवान भी कहते हैं की हर व्यक्ति को शाम को अपने घर के कमरे  में  थोड़ी देर के लिए तो लाइट जला  ही देना चाहिए  ही ,

                               पर एक ऐसा विधान आपके सामने रख रहा हूँ, जिसके लिए कोई विशेष प्रक्रिया नहीं हैं ,  बस आसानी से आप  इस को याद  कर सकते हैं ,  जब  कभी  नए स्थानमे रहना  हो   इस मंत्र  को  एक बार पढ़ कर तीन बार  हाँथ से जोर से  ताली बजाये  बस  इतनी  सी  तो प्रक्रिया  हैं  और और ऐसे  तो सिद्ध करने की कोई जरुरत  नहीं हैं पर  जब भी साधनात्मक दृष्टी से  महत्वपूर्ण  दिवस आते  हैं  तब कुछ इनका मन्त्र जप कर लिया जाना चाहिए , वेसे  अधिकाश  साबर मंत्रो में  यदि उपरोक्त समय में कुछ हवन या आहुति इन मंत्रो  से पढ़ कर दे दी  जाये  तो और  भी अनुकूल होता हैं ही 

मंत्र 
 ॐ चौकी  हनुमत बीर की  ,वाण ध्वजा  फहराए   |  मारू मारू मारुत सूत, मुष्टिक शत्रु  नसाय  |  मेरे इष्ट राम चन्द्र जी , अगुआ हनुमंत  वीर |  चौक सुदर्शन चक्र  की , रक्षा करे शरीर  |

टोना ब्रह्म भूत प्रेत संग , डायन  डाइ  | सांप बिच्छू चोर बात ,सबकुछ  निष्फल जाइ  |  





आज के लिए  बस इतना ही

*******************************************************************************                               Many secrets  will be revealed   in  coming  Mahavisheshank based on  teekshan shakti  and  itar  yoni. Many of us generally have  fears  regarding  these  itar yoni tatv. We have to  go out of town /home  regarding our  professional  purpose , and so we have to stay in hotel , some  times in  unknown  place  too, so quite natural that  some fears enter our heart.
 Whether we  may call them a  negative energy  or give them some other name, but   they have some impact  upon us,  so  there is need to have  a vidhan  so  that we can have protection,
 But  why we need them
                   One of  famous  writer  on tantra subject  in our country ,   due  to  personal  work  visited  foreign  country and   in  night , when   he  could not find  a proper place to stay  so  stay a unknown   hotel ( hotel staff not ready  to allot a  room , but due to his pressure  ,they give one  room that was not generally allotted  ) , he has a  rules   that he strictly  follows  before  sleeping he always used to chant through a very specific way “ The hanuman chalisa”  , when he slept  two or three times in night ,his room doors  was knocked, whenever  he  opened   the door no one was out there . very strange.
 When in the  morning , he woke  up ,the  hotel staff was very much surprised   to see him healthy , they asked every thing is  fine  with him,
 he  said  yes , what happened,
 They  told  whenever any new  customers stay  in this room, what happened  ,who  do that ,  no  one  knew that  but  in  night  ,when     the  door knocked ,and person come outside  to check what was the problem?  and when he saw downward some  one  pushed him, so many accident happened  because of that.
                           It has been said that  in night times specially  evening  time ,  light should be on  in every  room of your home   for  some  duration. So that  theses negative elements effect minimize up to a certain extent.,  the  room that has not been used  for a long time, and  no light  available in that  and   if no one visited  inside that , generally controlled  by these elements,  and when you suddenly  use   the room,  than many such a accident happens  , only the person effected knew.
       One of mine friend  went to Delhi  for job relation and  stay   in  a house of his friend,  the room ,he  used was not taken  in use  by that family . one night when  my  friend prepare to sleep and  as he  the switched off the light  , suddenly a heavy push  from  some one happened on him , he was surprised .
, as switched on the  light  but no one was there ,very surprising event for him. Very next day , he asked  that friend family  that  how long that room was vacant and  not taken in use  ,they replied about a  year,  so after listening this event  a  earthen lamp was daily light  up in that room.
        Sadgurudev Bhagvaan used to say that  evening   time  in every room of your  home, light  should be on.
 Here I am disclosing you a very easy process  , no need  for any  special process to get siddhtta,
 Just chant  one time and clap three times little  bit  with hard., that’s all . you will get protection, yes you can do on some very special days of sadhana , if offer some aahuti and  do havan  with this mantra than little bit more effect can be gained.
Mantra :
Om  chaouki  hanuman  beer  ki ,  vaan  dhwja  phahraye |  maaru maaru  marut sut , mushtik  shatru nsay | mere isht raamchandr ji  ,agua hanumant veer | chouk  sudarshan  chakra  ki ,  raksha  kare  sharir  | ton brahm  bhut  prêt  sang , dayan  dae |  saanp  bichchu chor vaat  , sab kuchh  nisphal jai |
 This is  enough for today 
****NPRU****

4 comments:

vinod and suresh said...

i cant understand why.. to chnt this mantra...........is it necessary... if we are outside our home

vinod and suresh said...

i cant understand why.. to chnt this mantra...........is it necessary... if we are outside our home

Rishiraj awasthi said...

Bhaia ji mantra me hindi me likha he hanumat veer or english me hanuman veer. Dono me se Uccharan kiska karna he

SPatel said...

Jai GuruDev!

I would like to know some sadhnas that can be performed during Navratri. since its coming next and then Diwali. Please upload ASAP.

Thanks

Jai GuruDev.