There was an error in this gadget

Friday, October 15, 2010

Tantra Vijay-13 Shabar Swapneshwar Sadhna(Unlock your Dream Language)


जय गुरुदेव
शाबर मंत्रो के साहित्य में कुछ ऐसे करिश्मे भी हे कि जिनके बारे में जितना भी कहे , कम ही हे. तंत्र क्षेत्र में मेरे प्रवेश के साथ ही मुझे सर्व प्रथम जो साधना प्राप्त हुयी उसी दुर्लभ साधना को आज आप सब लोगो के समक्ष रख रहा हू. इस साधना को किये हुए आज कितने साल हो गए, न जीने कितनी साधनाए इस अवधि में कि हे लेकिन आज इतने समय के बाद भी इसका प्रभाव अचूक हे.
स्वप्न तंत्र के अनुसार शिव को स्वप्नेश्वर और शक्ति को स्वप्नेश्वरी कि संज्ञा दी गयी हे. आदि देव एवं देवी स्वप्नों के अधिष्ठाता हे. हमारे स्वप्न मात्र स्वप्न न हो के भविष्यके संकेत होते हे ये तो कई लोगो का अनुभव रहा ही होगा. यदा कदा साधनाओ के दर्मिया ऐसे कई अनुभव और संकेत मिलना, देव दर्शन करना , मृत परिचितों को देखना, समश्या का समाधान मिलना , पूर्व जन्म देखना , आदि से सहज ही समजा जा सकता हे कि साधक के जीवन में स्वप्न कि मह्हता क्या हे. हमारे महर्षियोने इस विषय पर पूर्ण शोध करके स्वप्नों का विष्लेषण करके कई नए साधनात्मक एवं भौतिकता सबंधी रहस्य प्रकट किये हे. स्वप्नों में दिखाई देने वाली घटाने, स्थल, स्वप्नों का समय, उसके अनुसार नक्षत्र आदि सभी को जोडके निश्चित रूप से ये जाना जा सकता हे कि आखिर स्वप्न के द्रश्य का सही और सचोट संकेत किस घटना पर हे. इसी विज्ञान के साथ जब तंत्र को जोड़ा गया तो इसी में ही उदभव् हुआ स्वप्न तंत्र का.

स्वप्न तंत्र के द्वारा हम तांत्रिक प्रक्रियाओ और साधनाओ के द्वारा कई ऐसे कार्य कर सकते हे जिसे आश्चर्य ही कहा जा सकता हे. जेसे कि स्वप्न के माध्यम से प्रश्नों का उत्तर प्राप्त करना, स्वप्नों के संकेतों को समजना, स्वप्नों के द्वारा देव दर्शान करना आदि. तांत्रिक ग्रंथो में कई एसी साधनाए दी गयी हे जिसके द्वारा कोई भी व्यक्ति ये सब कर सकता हे. विभ्भिन साधनाओ का प्रयोजन विभ्भिन रूप से होता आया हे. जेसे को कोई साधना के द्वारा प्रश्नों का उत्तर जाना जा सकता हे. या फिर कोई साधना के द्वारा स्वप्न में देव दर्शन संभव हे .

पर क्या कोई एसी भी साधना हे जिसके द्वारा पुरे स्वप्न शास्त्रों को एक ही बार में समजा जाए
जब प्रयोग होता हे तब रात्रि में स्वप्नावस्थामें भोलेनाथ दर्शन देते हे और आगे कोनसी साधना, साधक को फलीभूत होगी उस विषय पर मार्ग दर्शन करते हे. ये स्वप्न सिर्फ गुरु के सामने ही बताया जाता हे और गुरु उस स्वप्न के संकेत से साधक को आगे कि साधनाए प्रदान करता हे.
अस्तु, ये प्रयोग इतना अधिक महत्त्व रखता हे ये तो इसी से ही समजा जा सकता हे. इस साधना के द्वारा कोई भी व्यक्ति अपने स्वप्न के माध्यम से प्रश्नों के जवाब प्राप्त कर शकता हे, भोलेनाथ का स्वप्नेश्वर स्वरुप में दर्शन भी इसी के द्वारा संभव हे. इस साधना कि विशेषता ये भी हे कि इसको करने से अपने आप ही स्वप्न के संकेतों को समजने का ज्ञान हो जाता हे और भविष्य में वो उसके हर एक स्वप्नों को समजते हुवे सचेत होता हुआ अपने मार्ग पर गतिशील रहता हे.

ये साधना तीन चरणों में सम्प्पन होती हे
स्वप्नेश्वर दर्शन हेतु : ११ माला मंत्रो को ११ रात्रि तक जाप करे.
पूर्ण सिद्धि के लिए (स्वप्न शाश्त्र के ज्ञान के लिए): उपरोक्त पद्धति से ११ माला ११ दिन का एक अनुष्ठान होता हे , ऐसे तीन अनुष्ठान करने से पूर्ण सिद्धि प्राप्त होती हे.
स्वप्न में प्रश्न का जवाब प्राप्त करने के लिए : १०८ (१ माला) मंत्रो को ११ रात्रि तक जाप करे
यह साधना सोमवार से शुरू करे . सिर्फ रुद्राक्ष माला का ही प्रयोग होता हे. रात्रि के ११ बजे बाद स्नान करके ही ये प्रयोग करे. आसान कोई भी हो . दिशा उत्तर रहे.
मानसिक रूप से गुरु पूजन करके भगवन शिव एवं गुरु को शाक्षी मानके उनसे आज्ञा लेकर साधना शुरू करे.
मंत्र :

ओम नमो त्रिनेत्राय पिंगलाय महात्मने वामाय विश्वरूपाय स्वप्नाधिपतये नमः मम स्वप्ने कथयमे तथ्यम सर्व कार्य स्वशेषत: त्रिया सिद्धि विद्या स्वामी तत प्रसादाना महेश्वरे
अगर स्वप्न में कोई प्रश्न का उत्तर जानना चाहे तो उस रोज जाप सम्प्पन करने के बाद उस प्रश्न को मानसिक रूप से दोहराए और स्वप्नेश्वर से जवाब प्राप्त करने के लिए प्रार्थना करे.
इस साधना के दरम्यान रात्रि में एक बार नींद उड़ जाती हे और कुछ मिनिटे नींद नहीं आती हे और पूर्ण निंद्रा का आभाष होता हे पर कुछ ही समय में नींद आजाती हे. ऐसा निश्चित रूप से होता ही हे. प्रश्न का जवाब मिले तो इस कार्य काल में लिख ले वर्ना सुबह तक वो जवाब भूल जायेंगे.
मेरी ये हार्दिक इच्छा रहेगी कि सभी गुरु भाई एक न एक बार इस साधना को सम्प्पन ज़रूर करे.

***********************************************************
jai gurudev
there are so many mysterious things found which has been described in scriptures of the shabar mantras for which whatever appreciation may be, but it is never enough. the very first sadhana which I received when entering into the field of tantra, the same rare sadhana I am presenting here infront of you all. so many years had been passed after I completed this sadhana, meanwhile I did so many other sadhanas too but the power of that sadhana had always remained as it was.

According to Swapn Tantra Shiv is belived to be ‘Swapneshwar’ and Shakti as ‘Swapneshwari’. The lord and godess are controller of Dreams. It must had been experienced by many that dreams are not just dreams but those are the symbols and indications for the future. During sadhana, some experiences are generally found like watching gods, watching spirits, to get answers of queries, to watch previous lifes, etc. through dreams; through this we can understand importance of the Dreams. our sages has deeply studied ,analyzed and made complete research on this subject and desbribed secrets of materialism and spiritualism in relation with the subject. confidencial information of the exact meaning from dreams could be generated by connecting incidents of dreams, places, nakshatras etc. When tantra was connected with scince of dream, it became dream tantra or litterelly ‘Swapna Tantra’.

By the help of tantrik procedures and sadhanas of swapn tantra, we can perform many task which are termed as miracles, like to get answers of questions through dreams, to understand meaning of dreams, to get glimps of gods in dreams etc. there are several sadhanas exist in the ancient scriptures through which one can get such results. sadhanas veries according to their purposes. like with some sadhanas one can have answers in dreams or with some other sadhana one can have glimps of god in dreams.

but is there any sadhana through which the whole dream tantra could be understand in a single strock ?

in nathyogi tradition there is one ritual, which is being performed one day before and one day after ‘nath tantra diksha’. before this a siddhaguru accomplishes this sadhana and transfer power of this sadhana to the desciple so that he can perform the prayog direcly with comfort.
when this ritual is performed, in night time Bholenath gives blessing in dreams with his Swapneshwar form, and guide sadhak about those sadhanas which can provide definate success to the sadhana. This dream is then to be disclosed in front of guru only and guru will then guide disciple for further sadhanas based on his experience of the Dream.
truely,this prayog/sadhana has such an importance that can be understand
by this fact , this sadhana, any person can get the answer of his question through dreams. to see lord Bholenath ( lord shankar) as in form of lord Swapneshwer can be possible by this sadhana.one specificity of this sadhana is that, one who complets this ,can easily understand the indication of dreams and he himself ,be alert on the path leads to future by understing sign and indication of each dream.
This sadhana can be completed in three steps (to get its result in full).
To see lord Swpaneshwer : do jap 11 round of rosary for 11 night.(continous)
to get poorna sidhhi (complete result) of this sadhana (to get knowledge of Swapan shastra) : 11 round of rosary daily jap for 11 night continous, this is a single Anusthan. and three times of the Anushthan of the above mentioned process is must.
To get answer of your question in dream : recite 108 times of this mantra ( 1 round of rosary) for 11 nights.
This sadhana can be started from any monday. only Rudraksh rosary can be used.take a bath after 11 PM night. sitting cloth(Aasan) can be of any type and color. but direction should be north.
guru poojan can be done mentally and in the sakshi (witness) of lord Shiva and guru take their agya (permission) strats this sadhana.
Mantra:

om namo trinetray pinglay mahatmane vamay vishwaroopay swapnadhipataye namah. mam swapne kathay me tathyam sarv kary swasheshatah triya siddhi vidhya swami tat prasadana maheshware.

to get answer of any question,which you like, after completing the daily mantra jap,repeat the question mentally and pray to lord Swapneshwer to get the answer.
during this sadhana one get break in sleep in night and he will not able to sleep for some minits,he will get the feeling of poorna nidra(complete sleep),but sleeps come back in minites.this experience is surely happens.if get answer during this time, do write that in piece of paper otherwise answer will be forgotten in morning time.

this is mine heartiest wish that all of mine guru bhais( brother and sister) will surely do this sadhana.
jai Gurudev


FOR MORE UPDATES
OF

(Alchemical files and Mantras RELATED TO POST)

PLZ JOIN
YAHOOGROUPS



To visit NIKHIL ALCHEMY GROUP plz click here

****RAGHUNATH NIKHIL****




2 comments:

sona said...

Jai Gurudev,
Could you please give the process to perform guru poojan mentally.


Regards
Bishwajit

deepak gautam said...

please tell me whole procedure of this sadhna and can i do this sadhna without guru?