Sign In

Thursday, June 9, 2011

An easy process for LAKSHMI PRAPTI


लक्ष्मी वान बनना तो मनुष्य  का सपना  रहता  आया हैं कम से कम आज के जीवन  की  कठोर  परिस्थितियों  को देख कर के  तो  यही कटु सत्य  लगता हैं ,पर  इन चंचला  को कैसे स्थायित्व दिया जाये.कितनी साधना , कितने ही पद्धतियों  इनके बारे में साधना  जगत में प्रचलित हैं  पर सबका मूल मन्त्र तो  यही हैं  की जल्द से जल्द  इनकी  कृपा प्राप्त हो पर कैसे ? जब पाना  हो अभीष्ट, और  न हो समय तब इन प्रयोगों की उपयोगिता  से कौन   मुंह मोड़ सकता हैं .नित्य प्रति के जीवन में   सफलता प्रदायक  एक ऐसे ही प्रयोग को आपके समक्ष रख रहा हूँ, यदि आप इसे  पूर्ण विस्वास से करेंगे  तो  इसके परिणाम आप स्वयं  ही   अनुभुत कर  आश्चर्य चकित हो उठेंगे .

घर में पैसे  जोड़ने में  उपयोग आई जाने वाली मिटटी  की  गुल्लक ले ले . ओर जब भी आप इसमें कोई भी धन राशि  कम या ज्यादा डाले(इससे फरक नहीं पड़ता हैं ) तब निम्न  मंत्र का उस धन राशि को हाँथ में रखते हुए १०८ बार केबल उच्चारण कर ले ,फिर गुल्लक में  उसे डाल दे धीरे धीरे  आप के घर में स्वयं ही लक्ष्मी वास /स्थिरता होने लगेगी .(ये मेरा स्वयं का अनुभूत है)
मंत्र :श्रीं श्रीं ह्रीं ह्रीं  श्रीं  ॐ ||
To become wealthy is a dream  of any human being , and now a days situation is so difficult  that ,  this became  bitter truth . how to make her  stationary i.e. who is ever moving. How many type of sadhana and how many ways  are of  goddess lakshmi  in sadhana field, but when time is less and one has to get his desire  aim ,than no one can turn his face towards the usefulness of small sadhana means prayog . I am here mentioning a very small  prayog if done with full faith than you can yourself see the changes in your financial life.
Take one small earthen pot  normally used for keeping coin by small children (gullak) and whenever you want to deposit any amount (greater or lesser it does not matters) first chant the mantra 108 times only than place that amount in that. Gradually goddess lakshmi bless your home  with her presence.
Mantra
 Shreem shreem hreem hreem shreem om||
****NPRU****

No comments: